शनि देव मंत्र

शनि देव मंत्र

हैलो फ्रेंड्स कैसे हो आप सब आज हम बात करेंगे भगवान शनि के विषय में शनि भगवान सूर्य के पुत्र थे एवं वे नवग्रेह के रजा भी थे। शनिवार के दिन भगवान शनि की पूजा करना अति शुभ माना जाता है तो चलिए बढ़ते है शनि मंत्र की ओर जिससे भगवन शनि अति प्रसन्न होते हैं।

भगवन शनि देव मंत्र इन हिंदी

“ओम शन्नो देवी रभिष्टय आपो भवन्तु पीपतये शनयो रिवस्त्र वन्तुन :”

“Om Shanno Devi Rabhistye Aapo Bhawantu Piptaye Shanyo Rivasta Vantunah”

यदि किसी व्यक्ति को शनि का दोष हो तो वह इस मंत्र को शनिवर के दिन 23,000 बार उचारण करने से निवारण पा सकता है।

पढ़ें -