What is Operating System functions in Hindi

Hello दोस्तों ! हम इस पोस्ट में ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है? What is operating system in Hindi तथा इसके characteristics क्या है? को पढेंगे तो चलिए शुरू करते है:-

ऑपरेटिंग सिस्टम को निम्न बिन्दुओ (Point) के आधार पर आसानी से समझा जा सकता है:-

Point No.1​

Operating system (OS) एक सॉफ्टवेयर होता है जो कि कंप्यूटर तथा यूज़र के मध्य interface की तरह कार्य करता है। इसे System Software कहते है.

ऑपरेटिंग सिस्टम निर्देशों का समूह होता है जो कि स्टोरेज डिवाइस में स्टोर रहता है। तथा यह programs का समूह होता है जो कि कंप्यूटर के resources तथा operations को manage करता है।

Point No.2​

OS कंप्यूटर में लोड होने वाला यह पहला प्रोग्राम होता है। इसे program of programs भी कहते है. OS कंप्यूटर के सभी Operations को Manage करता है। OS का कार्य अन्य Program तथा Application को run कराना होता है तथा यह Computer के हार्डवेयर तथा सॉफ्टवेयर के मध्य Bridge की तरह कार्य करता है।

Point No.3​

Multitask operating system में एक ही समय पर बहुत सारें programs run हो जाते है, और ऑपरेटिंग सिस्टम यह निर्धारित करता है कि कौन सा प्रोग्राम कब run होगा और कितने समय के लिए Run होगा, बिना Operating System के एक कंप्यूटर Useless (बेकार) होता है।

आप इस (Image) चित्र की मदद से अच्छी तरह से Operating System को समझ सकते हैं।

What is Operating System


Operating System के प्रकार​

Operating System हमेशा से ही कम्प्युटर के साथ रहे है. जैसे-जैसे कम्प्युटर ने विकास किया वैसे ही Operating System भी अपने आप को विकसित करते गए. Operating System को कई श्रेणीयों में बाँटा गया है, लेकिन, हम यहाँ Operating System के कुछ प्रमुख प्रकारों को जानेंगे।

1. Multi-user Operating System​

यह Operating System एक से अधिक उपयोगकर्ताओं को एक साथ कार्य करने की सुविधा प्रदान करता है, इस Operating System पर एक समय में सैकड़ों उपयोगकर्ता अपना-अपना कार्य कर सकते है।

2. Single-user Operating System​

इसके विपरीत Single-user Operating System एक समय में सिर्फ एक ही उपयोगकर्ता को कार्य करने देता है, इस Operating System पर एक समय में कई उपयोगकर्ता कार्य नही कर सकते है।

3. Multi-tasking Operating System​

यह Operating System उपयोगकर्ता को एक साथ कई अलग-अलग प्रोग्राम्स को चलाने की सुविधा देता है, इस Operating System पर आप एक समय में E-mail भी लिख सकते है और साथ ही अपने मित्रों से Chat भी कर सकते है।

4. Multi-Processing Operating System​

यह Operating System एक प्रोग्राम को एक से अधिक CPU पर चलाने की सुविधा देता है।

5. Real-Time OperatingSystem​

Real-Time Operating System उपयोगकर्ता द्वारा दिए गए Input पर तुरंत प्रक्रिया करता है, Windows Operating System इसका सबसे अच्छा उदाहरण है।

Operating System दो प्रकार के होते है​

  1. Character user interface (CUI)
  2. Graphical user interface (GUI)

1. Character user interface (CUI)​

CUI, user-friendly नही होता है और इस OS को चलाने के लिए हमेशा command को type करना पड़ता है।

जैसे:- DOS एक CUI ऑपरेटिंग सिस्टम है।

2. Graphical user interface (GUI)​

GUI ऑपरेटिंग सिस्टम user-friendly होता है और इस ऑपरेटिंग सिस्टम को चलाने के लिए command नही देनी पड़ती है बल्कि जिस program को open करना है उसमें mouse से क्लिक करना पड़ता है।

जैसे:- विंडोज एक GUI ऑपरेटिंग सिस्टम है।

Characteristics of Operating System​

1. Memory management (मैमोरी मैनेजमेंट)​

OS मैमोरी को मैनेज करता है, यह primary memory की पूरी जानकारी रखता है और देखता है कि मैमोरी के कौन से भाग का use किस प्रोग्राम ने किया है. जब भी कोई प्रोग्राम request करता है तो उसे मैमोरी allocate करता है।

2. Processor management (प्रोसेसर मैनेजमेंट)​

यह Processor का ध्यान रखता है, और Manage करता हैंयह प्रोग्राम को processor (CPU) allocate करता है और जब किसी प्रोग्राम को CPU की जरुरत खत्म हो जाती है तो इसे Deallocate भी करता है।

3. Device management (डिवाइस मैनेजमेंट)​

OS सभी devices की जानकारी रखता है इसे I/O controller भी कहते है. तथा OS यह भी निर्णय लेता है कि किस program को कौन सी डिवाइस दी जाएँ, कब दी जाएँ तथा कितने समय के लिए दी जाएँ।

4. File management (फाइल मैनेजमेंट)​

यह resources को allocate तथा deallocate करता है तथा यह निर्णय लेता है कि किस प्रोग्राम को resources दी जाएँ अर्थात् allocate की जाये।

5. Security (सुरक्षा)​

यह किसी भी प्रोग्राम या डेटा को unauthorized एक्सेस से बचाता है. इसमें password तथा अन्य तकनीकों का इस्तेमाल किया जाता है।

6. Reliability (विश्वसनीय)​

यह बहुत ही reliable होता है क्योंकि इसमें किसी भी virus तथा हानिकारक codes को detect किया जा सकता है।

7. Cost (मूल्य)​

operating system का cost इसके features के आधार पर निर्धारित होता है जैसे:- windows की cost 100 $ के आस पास होती है जबकि DOS तथा UNIX ऑपरेटिंग सिस्टम free है।

8. Ease of use​

इसे आसानी से use किया जा सकता है क्योंकि इसमें GUI इंटरफ़ेस भी होता है।
 

सम्बंधित टॉपिक्स

सदस्य ऑनलाइन

अभी कोई सदस्य ऑनलाइन नहीं हैं।

हाल के टॉपिक्स

फोरम के आँकड़े

टॉपिक्स
1,845
पोस्ट्स
1,887
सदस्य
242
नवीनतम सदस्य
Ashish jadhav
Back
Top